CNG और हो सकती है 8 से 12 रुपए प्रति किलो महंगी।

कोटक ने कहा कि कई कारणों से घरेलू गैस मूल्य फार्मूले पर फिर से विचार करने और ‘फ्लोर/सीलिंग’ मूल्य पेश करने की आवश्यकता है।

0 15
Photo Source : Google

नई दिल्ली : प्राकृतिक गैस की कीमतों में रिकार्ड वृद्धि के बाद सीएनजी 8 से 12 रुपए प्रति किलो महंगी हो सकती है जबकि रसोई गैस के भाव में 6 रुपए प्रति इकाई का इजाफा किया जा सकता है। विश्लेषकों ने यह अनुमान जताया है। सरकार ने पिछले सप्ताह पुराने गैस क्षेत्रों से उत्पादित गैस के लिए भुगतान की जाने वाली दर को मौजूदा 6.1 डालर प्रति मिलियन ब्रिटिश थर्मल यूनिट (फीसद इकाई) से बढ़ाकर 8.57 डालर प्रति इकाई कर दिया। वहीं, मुश्किल क्षेत्रों से निकाली जाने वाली गैस की कीमत 9.92 डालर से बढ़ाकर 12.6 डालर प्रति इकाई कर दी गई है। इसी दर के आधार पर देश में उत्पादित गैस के लगभग दो-तिहाई हिस्से की बिक्री होती है। प्राकृतिक गैस उर्वरक बनाने के साथ बिजली पैदा करने के लिए एक प्रमुख कच्चा माल है। इसे सीएनजी में भी परिवर्तित किया जाता है और पाइप के जरिए (पीएनजी) इसे रसोई में खाना पकाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.