दुनिया व आखेरत की कामयाबी के लिए दीनी व दुनियावी तालीम दोनों है जरूरी: मौलाना अनवार आलम क़ासमी 

13

मुश्ताक अहमद सिद्दीकी की रिपोर्ट

अररिया: अररिया प्रखंड की सरजमीं पर अवस्थित अदारा मुनवरूल उलूम खरहैया बस्ती में एक दिवसीय इजलास आम का आयोजन देर रात तक चलने के बाद संपन्न हो गया.इस अवसर पर मदरसा से तालीम हासिल करने वाले कुल 5 हाफिजे कुरआन की दस्तारबंदी की गई.जलसा में देश दुनिया की मौजूदा हालात और हमारी जिम्मेदारी के अलावा तालीम और इस्लाहे माशरा पर भी उलमाओं का खिताब हुआ.जलसा की सदारत मौलाना अनवार आलम साहब शैखुल हदीस मदरसा दारुल उलूम बहादुरगंज ने की जबकि जलसा को इमारते शरिया जिला इकाई अररिया के शहर काजी अतिकुल्लाह साहब ,मौलाना आफताब आलम मोजाहिरी साहब , मौलाना व मुफ्ती हस्सान जामी कासमी साहब,मुफ्ती अब्दुल वारिस साहब ,मौलाना मो अयूब निजामी कासमी साहब ने संबोधित किया । जलसा में अपनी तकरीर पेश करते हुए उलमाओं ने कहा की आज के बदलते हालात में जरूरत इस बात की है की हम अपने बच्चों को दीनी तालीम और बेहतर तरबियत के साथ साथ आधुनिक एवं तकनीकी शिक्षा भी प्रदान करें.मौलाना ने कहा तालीम से ही तरक्की के सभी रास्ते खुलते हैं.आज वही कौम और मुल्क तरक्की याफ्ता है जहां तालीम है.इस अवसर पर जलसे की सदारत कर रहे मौलाना अनवार आलम साहब ने सदारती कलेमात के तहत कहा की तालीम तरबियत के साथ साथ जरूरी है की समाज में फैली बुराइयों को भी सब मिलकर समाप्त करने की दिशा में सार्थक प्रयास करें ,आज हमारी युवा नस्ल पूरी तरह नशा की चपेट में आ गई है ,अगर इसे जल्द नही रोका गया तो इसके बहुत बुरे नतीजे सामने आएंगे, इसपर भी सबसे पहले काम करने की जरूरत है।मौके पर मौलाना आफताब आलम साहब ने कहा कि मौजूदा हालात में देश में अमन शांति के लिए जरूरी है की आपसी प्रेम और सद्भाव को बढ़ाया जाए.हमारा मुल्क गंगा जमुनी तहजीब का बेहतरीन गहवारा है, इसे हर हाल में बनाए रखना हम सब की जिम्मेदारी है.मदरसा मुनवरूल उलूम के नाजिम मो गालिब कासमी इस मौके पर मौजूद थे.मदरसा के नाजिम मौलाना गालिब कासमी साहब ने जानकारी देते हुए कहा की इस मदरसा से तालीम हासिल कर हाफिज बने 5 हाफिजों की दस्तारबंदी की गई है।, जो सराहनीय कार्य है। सभी मौजूद उलमाओं के द्वारा इन हाफिजों को पगड़ी बांधकर दुआएं दी गई। मंच संचालन कारी नियाज़ कासमी साहब ने अदा किय जबकि मौलाना गालिब क़ासमी ने तमाम उलमा, मेहमानान और तमाम लोगों का शुक्रिया अदा किया।