वंचित वर्ग के लिए कल्याणकारी साबित हो रही मोदी-मनोहर की नीतियां।

चीफ मीडिया कार्डिनेटर सुदेश कटारिया ने कहा की मुख्य्मंत्री खुद कर रहे संकल्प यात्रा की मानीटरिंग। - सरकार ने किया व्यवस्था परिवर्तन का काम, जिसका प्रदेश को मिल रहा लाभ।

14
सुदेश कटारिया, चीफ मीडिया कार्डिनेटर

चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के चीफ मीडिया कार्डिनेटर सुदेश कटारिया ने कहा कि ‘विकसित भारत जनसंवाद संकल्प यात्रा’ समाज के वंचित व्यक्तियों तक केंद्र व राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की पहुंच सुनिश्चित करने में मददगार साबित हो रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल पूरी संकल्प यात्रा की मानीटरिंग कर रहे हैं। उनके स्पष्ट निर्देश हैं कि किसी भी वंचित और पात्र व्यक्ति को केंद्र तथा राज्य सरकार की योजनाओं के लाभ से वंचित नहीं रहने दिया जाना चाहिए।

सुदेश कटारिया ने आज मीडिया से बातचीत में कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की कोशिश है कि केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ समयबद्ध तरीके से सभी लाभार्थियों तक पहुंच सके। मुख्यमंत्री का मानना है कि सरकारी योजनाओं पर सबसे पहला हक गरीबों का है। सरकार की ओर से गरीबों के लिए जितनी अधिक योजनाएं बनेंगी, समाज उतना ही सुखी होगा। इसी सोच के तहत सरकार काम कर रही है। सरकार गरीबों और वंचितों के विकास के लिए प्रयत्नशील है। सरकार सेवा, सुशासन और गरीब कल्याण के सिद्धांत के साथ काम कर रही है।

सुदेश कटारिया ने कहा कि मुख्यमंत्री ने ‘अंत्योदय उत्थान’ की योजनाएं लागू कर हरियाणा प्रदेश के उन गरीब लोगों का कल्याण एवं उत्थान किया है जो समाज की स्ट्रीम लाइन से टूटे हुए व कटे हुए हैं। अधिक से अधिक संख्या में पहुंचकर लोग विकसित भारत संकल्प यात्रा के कार्यक्रमों का हिस्सा बनकर योजनाओं का लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ‘गारंटी’ और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के विकास का मतलब सुशासन, अंत्योदय कल्याण और वंचित वर्ग का उत्थान है।

चीफ मीडिया कार्डिनेटर ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के मजबूत और प्रभावी नेतृत्व का एक उत्कृष्ट उदाहरण है, जो केवल वादे ही नहीं करते बल्कि अपने वादों को पूरा भी करते हैं। भाजपा सरकार ने चुनाव से पहले अपने जो वादे किए थे, अधिकतर को मुख्यमंत्री पूरा कर चुके हैं। सरल हरियाणा पोर्टल पर 682 आनलाइन सेवाएं चलाई गई हैं, जिनका घर बैठे नागरिक लाभ ले सकते हैं। जो लोग इन पोर्टल पर लाभ लेने से वंचित हैं, वह कार्यक्रमों में पहुंचकर लाभान्वित हों। विकसित भारत जनसंवाद संकल्प यात्रा गरीब, किसान व मजदूरों के आर्थिक उत्थान के लिए चलाई गई है।

सुदेश कटारिया ने कहा कि हरियाणा सरकार का निर्णय है कि कमजोर वर्ग को खजाने का लाभ सबसे पहले मिलना चाहिए और आज बिना किसी भेदभाव के इसका लाभ दिया जा रहा है। जिस घर में कोई भी सरकारी नौकरी में नहीं है उसको सामाजिक आर्थिक मानदंड के पांच नंबर देने का निर्णय सरकार ने लिया है। परिणामस्वरूप ऐसे घरों के युवाओं को सरकारी नौकरी मिल रही है। लोग अब चर्चा करने लगे हैं कि उन्हें बिना पैसे दिए नौकरियां मिलती हैं। पूरे प्रदेश में बदलाव का माहौल है, जिससे लोग खुश हैं। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में जनता मालिक है और हम सेवक हैं। अब पहले वाली मानसिकता नहीं रही। सरकार ने व्यवस्था परिवर्तन करने का काम किया है और उसी का नतीजा है कि गरीबों का आशीर्वाद मोदी और मनोहर को मिल रहा है।