राम मंदिर निर्माण भूूमि पूजन की खुशी में मां सीता के मायके में उत्सव, जनकपुर जानकी मंदिर में दीपोत्सव

11

सीतामढ़ी : अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन की खुशी में बुधवार को मां सीता के मायका जनकपुर में उत्सव मनाया जा रहा है। जनकपुर स्थित प्रसिद्ध जानकी मंदिर में विशेष पूजा अर्चना हुई है और संपूर्ण मंदिर परिसर को 11 हजार दीपों से सजाया गया है। जानकी मंदिर के उत्तराधिकारी महंथ राम रोशन दास ने बताया कि जनकपुर शहर के घर-घर में दिवाली मनायी जा रही है। जानकी मंदिर में दिन में सीता-राम संकीर्तन का आयोजन हुआ। शाम होते ही जानकी मंदिर परिसर दीपों से जगमगा उठा।
भारत-नेपाल खुला सीमा संवाद समूह के अध्यक्ष राजीव झा ने बताया कि मिथिला किशोरी जी के ससुराल में मंदिर निर्माण आरंभ होने से संपूर्ण जनकपुरवासियों में उल्लास है। आज उनके घर के साथ-साथ जनकपुर के अधिकांश हिन्दू परिवारों में रामायण पाठ हुआ और भगवान राम की पूजा- आराधना की गई। कोरोना की वजह से शहर में लॉकडाउन के कारण लोग अपने-अपने घरों में दीप जला रहे हैं। संपूर्ण मिथिलावासियों के लिए इससे बढ़कर खुशी का दिन नहीं हो सकता है। सैकड़ों वर्षोँ की प्रतीक्षा के बाद अयोध्या स्थित ससुराल में किशोरी जी का घर-आंगन बन रहा है।
सीतामढ़ी शहर में राम पताका, मंदिरों में रंगोली :
अयोध्या में भूमि पूजन के अवसर पर मां सीता की धरती सीतामढ़ी ‘श्री सीताराम’ से गुंजायमान हो रही है। मां सीता सीतामढ़ी में जमीन से प्रगट हुई थीं। सीतामढ़ी के पुनौरा धाम में महंथ कौशल किशोर दास के नेतृत्व में भजन-कीर्तन एवं महाआरती का आयोजन हुआ है। जिले के मठ-मंदिरों में अष्ठयाम शुरू हो गया है। पुनौरा धाम में दिवाली मनाई जा रही है।
सीतामढ़ी जानकी मंदिर को बिजली के बल्ब से सजाया गया है और दीपोत्सव मनाया जा रहा है। सीतामढ़ी के अन्य मठ-मंदिरों को सजाया गया है। मां जानकी जन्मोत्सव आयोजन समिति के सदस्य विशाल कुमार ने बताया कि कई मंदिरों में सुबह में रंगोली सजायी गई। शाम में भोग लगाकर महाआरती हुई है। मंदिर पर और शहर की सड़कों पर राम पताका लहरा रहे हैं।
सीतामढ़ी में चारों तरफ उत्सवी माहौल कायम है। भूजन की प्रकिया शुरू होते ही रजत द्वार स्थित जानकी मंदिर में श्री सीताराम नाम जाप शुरू हो गया। शहर से गांव तक मठ-मंदिरों को भगवा ध्वज व रंगीन बल्ब से सजाया गया है। शहर के प्रमुख मंदिर विजय शंकर चौक स्थित शिव मंदिर, राजोपट्टी शिव मंदिर, हरिछपुरा स्थित मुठिया बाबा की कुटिया, भवदेपुर के राम जानकी मंदिर, बगही धाम, सीता मंदिर पंथपाकर आदि जगहों पर सीताराम नाम जप शुरू है। नानपुर में श्रीराम भक्तों ने बाइक जुलूस निकाल जय श्रीराम के नारे लगाए।