चांदनी आजाद अली वूमेंस पावर संस्था कर रही है मास्क वितरण

15

फरीदाबाद : { मामेंद्र कुमार } / कोविड-19 की दूसरी लहर के संघातिक होने के पूर्वानुमान पहले से ही चिकित्सक और वैज्ञानिकों ने लगाए थे। उन्होंने दुनिया को और दुनिया की सरकारों को उन्होंने चेताया भी था किंतु जिन्होंने पहले से तैयारी की वह इसके असर से खुद को बचा सके। जिन्होंने लापरवाही की वे बुरी तरह चपेट में आ गये। लोगों की लापरवाही और जागरूकता की कमी के कारण आज हमारा देश भी इसकी चपेट में आ गया है, मास्क वितरण के दौरान वूमेंस पावर संस्था की चेयरमैन चांदनी आजाद अली ने कहा की सँभालने और सावधानी बरतने का समय है. पर लोग अभी भी कोरोना महामारी को गंभीरता से नहीं ले रहे है. इसके लिए लोगों को जागरूक करना बहुत आवश्यक है. हम प्रयास कर रहे हैं पर सभी को एकजुट होकर काम करना होगा तभी कोरोना से जंग जीती जा सकती है. चांदनी ने कहा की भारत में प्रति दस हजार की आबादी पर केवल 8.5 बिस्तर ही अस्पतालों में उपलब्ध हैं और इसी तरह प्रति दस हजार की आबादी पर मात्र आठ चिकित्सक। ऐसे में हम अभी भी नहीं संभले तो स्थिति क्या होगी, इसकी कल्पना भी भयावह है. इसलिए हम लोगों को मास्क बाँट रहे हैं और उन्हें कोरोना से बचाव के प्रति जागरूक कर रहे है. चांदनी ने कहा कि हम सभी से अनुरोध भी करते हैं कि अफवाहों पर ध्यान न दें. अपना और अपनों का ख्याल रखें। जब बहुत अधिक जरुरत हो तभी घर से निकलें. एस ओ पी का पालन करें। तभी हम कोरोना महामारी से जंग जीत पाएंगे. इस अवसर पर मास्क वितरित करने वाली वूमेंस पावर यूथ टीम में आशीष पांडे, सैयद मेहविश परवीन, दक्ष, इंदु व सुमित ने मुख्य भूमिका निभाई।