ऑक्सीजन की सप्लाई करेगी मारुति सुजुकी, जून तक बंद किया हरियाणा समेत कई प्लांट

9

देश भर में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। जिसके चलते मरीजों को ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है। देश में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने हरियाणा के अपने प्लांट को 1 से 9 मई तक के लिए बंद कर दिया है। मारुति सुजुकी ने कहा कि सुजुकी मोटर ने गुजरात में भी अपने प्लांट को बंद करने का फैसला किया है।

मारुति सुजुकी इंडिया कोविड-19 महामारी की मदद के लिए आगे आई है। कंपनी ने बताया कि वो अपने कई प्लांट को अस्थाई तौर पर बंद कर रही है। मारुति ने बताया कि वह हरियाणा में चिकित्सा जरूरतों के लिए ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के लिए अपने प्लांट को बंद कर रही है। कार मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस के तहत मारुति सुजुकी अपने प्लांट में ऑक्सीजन की एक छोटी यूनिट चलाती है। सुजुकी मोटर के गुजरात प्लांट में भी ऑक्सीजन बनाई जाएगी।

कंपनी का कहना है कि, वह अपने कारखानों में ऑक्सीजन की बेहद कम मात्रा का उपयोग करती है जबकि मैनुफैक्चरर अधिक मात्रा में ऑक्सीजन का उपयोग करते हैं। जिसके चलते यह कदम उठाया गया है। मारुति ने बताया कि वर्तमान में जीवन को बचाने के लिए सभी उपलब्ध ऑक्सीजन का उपयोग किया जाना चाहिए। वहीं सुजकी मोटर गुजरात ने भी अपने कारखाने के लिए फैसला लिया है।

कंपनी ने बताया कि हर साल समर और विंटर सीजन में प्लांट को सप्ताह भर के लिए बंद रखती है। इस दौरान प्लांट में मेंटेनेंस से जुड़ा काम किया जाता है। हालांकि, समर सीजन में मेंटेनेंस जून महीने में होता है, लेकिन इस साल उसने मेंटेनेंट का काम मई में करने का फैसला किया है। इस बीच, हुंडई ने भी घोषणा की है कि यह अस्पतालों को ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने में मदद करेगा। दक्षिण कोरियाई वाहन निर्माता ने घोषणा की है कि वह अपने हुंडई मोटर इंडिया फाउंडेशन (HMIF) के माध्यम से 20-करोड़ के कोविड -19 राहत पैकेज के साथ मदद करेगा।