किसान नेता की कोरोना संक्रमित मरीज़ों को सलाह, Oxygen ना मिले तो MP और MLA के घरों में डालें डेरा

6

सोनीपत : तीन कृषि कानूनों के ख़िलाफ़ दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन लगातार जारी है. इस बीच किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने ट्वीट कोरोना संक्रमित मरीजों को सलाह दी है. किसान नेता गुरनाम चढूनी ने कोरोना संक्रमित मरीज़ों को सलाह और उनके परिजनों को नसीहत देते हुए कहा कि जिन्हें हॉस्पिटल में बेड या ऑक्सीजन ना मिले वो आपने एमएलए और एमपी के घर जाकर डेरा डाल लें

बता दें कि कुछ दिनों पहले भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा था कि प्रदर्शन कर रहे किसानों को अपनी जांच करवाने या टीका लगवाने के लिए मजबूर नहीं किया जाना चाहिए. अगर स्वास्थ्यकर्मी उनके साथ जोर-जबरदस्ती करने की कोशिश करेंगे तो उन्हें प्रदर्शन स्थल पर प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा

कुछ दिन पहले ही हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा था कि हरियाणा-दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों की कोविड-19 की जांच करायी जाएगी और उनका टीकाकरण कराया जाएगा. दिल्ली के साथ हरियाणा के सोनीपत, गुरुग्राम और फरीदाबाद जिलों की सीमाएं लगती हैं. चढूनी ने कहा था कि अगर वे हम पर दबाव बनाने की कोशिश करेंगे तो हम उन्हें (प्रदर्शन स्थल में) प्रवेश नहीं करनें देंगे उन्होंने कहा कि जांच कराने और टीका लगवाने का विकल्प किसानों पर छोड़ देना चाहिए. केन्द्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ बड़ी संख्या में किसान कई महीनों से दिल्ली से लगे हरियाणा के सिंघु और टीकरी बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे हैं