पलवल में रोजाना साढ़े तीन टन ऑक्सीजन की खपत

14

फरीदाबाद : [ मामेन्द्र कुमार ]  जिला में तीन टन आक्सीजन की रोजाना खपत हो रही है बावजूद इसके मरीजों को आक्सीजन की परेशानी झेलनी पड रही है। इसके अलावा मरीजों को बैड मिलने में भी परेशानी हो रही है। अधिकारियों के अनुसार डेढ़ टन आक्सीजन सरकारी अस्पताल में खपत हो रही है जबकि 2 टन निजी अस्पतालों के हिस्से में आ रही है। कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं। इससे कोविड मरीजों को आक्सीजन और बेड ना मिलने से बहुत परेशानी हो रही है। इसके साथ-साथ जिले में कोविड मरीजों की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है। सोमवार को सरकारी आंकडों के अनुसार कुल 127 नए मरीज का आंकड़ा दर्ज किया गया जबकि दो लोगों की मौत हो गई। फिलहाल जिले में 471 मरीज एक्टिव हैं। इस आंकड़े को देखते हुए अंदाजा लगया जा सकता है कि मरीजों को भारी परेशानी झेलनी पड रही है।

सीएमओ ब्रह्मदीप ने बताया कि विभाग महामारी को लेकर पूरी तरह से काम कर रहा है। किसी भी कोविड मरीज को परेशानी नहीं होने दी जा रही है। अगर आक्सीजन की बात करें तो जिले में 3 टन आक्सीजन की खपत रोजाना हो रही है। अगर मरीजों की संख्या बढ़ती है तो ये खपत बढ जाएगी और अलग से आक्सीजन मंगवानी पडेगी। उन्होंने बताया कि एक मरीज पर 5 लीटर से लेकर सौ लीटर तक आक्सीजन की खपत हो सकती है लेकिन यह मरीज पर निर्भर करता है कि उसकी हालत कैसी है। उन्होंने ये भी बताया कि अगर सौ मरीज आए हैं तो उनमें से करीब 5 मरीजों को ही आक्सीजन की जरूरत पडती है। डाक्टर ब्र्हमदीप ने बताया कि विभाग महामारी को लेकर पूरी तरह से सचेत है। हर रोज लोगों के टेस्ट किए जा रहे हैं, इसके अलावा कोविड मरीज को भी सभी सुविधाएं मोहिया करवाई जा रही हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वो सावधानी बरतें और जब घर से निकलना जरूरी हो तभी निकलें और मास्क लगाकर बाहर जाएं।