बंगाल में राजनीतिक हिंसा के विरोध में भारतीय जनता पार्टी फ़रीदाबाद के पदाधिकारियों द्वारा सांकेतिक धरना

14

फ़रीदाबाद : [मामेन्द्र कुमार ] भारतीय जनता पार्टी ज़िला फ़रीदाबाद के पदाधिकारियों द्वारा बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं के ऊपर तृणमूल कांग्रेस के गुंडों द्वारा की गई हिंसा के विरोध में सांकेतिक धरना रखकर विरोध दर्ज कराया गया I भाजपा ज़िला महामंत्री मूलचंद मित्तल, ज़िला उपाध्यक्ष पंकज रामपाल, ज़िला मीडिया प्रभारी विनोद गुप्ता, राज मदान, कृष्ण आर्य आदि पाँच कार्यकर्ताओं ने धरने में भाग लिया I कोविड प्रोटोकोल का पालन करते हुए धरने के दौरान कार्यकर्ताओं ने मास्क लगाकर सामाजिक दूरी का पालन किया I बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ हिंसा के विरोध में ज़िला अध्यक्ष गोपाल शर्मा ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ हुई हिंसा प्रायोजित थी I

तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने सोची समझी साज़िश के तहत पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजे आते ही हिंसा शुरू कर दी I हज़ारों भाजपा कार्यकर्ताओं पर क़ातिलाना हमला किया गया जिसमें दर्जन भर कार्यकर्ताओं की निर्मम हत्या कर दी गई और सैंकड़ों कार्यकर्ताओं को घायल कर दिया I भाजपा कार्यकर्ताओं की गाड़ियां तोड़ीं गई और उनके घरों, दफ़्तरों और दुकानों में आगजनी की गई I कार्यकर्ताओं की दुकानों को लूटा गया I भारतीय जनता पार्टी के दफ़्तरों पर हमला करके दफ़्तरों में आग लगा दी गई I मैंने अपने जीवन काल में चुनाव परिणाम के बाद पहले कभी ऐसी असहिष्णुता नहीं देखी।हमारे निर्दोष कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ इस तरह की राजनीतिक हिंसा का लोकतंत्र में कोई स्थान नहीं है I हम इसकी भर्त्सना करते हैं और दोषियों के ख़िलाफ़ कठोर करवाई की माँग करते हैं I

भारतीय जनता पार्टी महामंत्री मूलचंद मित्तल ने कहा कि यह राजनीतिक हिंसा का तांडव तृणमूल कांग्रेस के गुंडों द्वारा पूरी प्लानिंग के साथ किया गया I पूरे बंगाल में एक ख़ास समुदाय को निशाना बनाया गया और निर्दयतापूर्ण हिंसा का खेल खेला गया I समाचार पत्रों और सोशल मीडिया के माध्यम से हिंसा की जो तस्वीरें आई हैं बेहद हैरान व विचलित करने वाली हैं I हिंसा की ऐसी तस्वीरें सिर्फ़ देश के विभाजन के समय देखी गई थी I देश में इस तरह कि घटनाएँ कभी किसी चुनाव के बाद ना देखी गई और ना कभी सुनी गई I हम इसकी घोर निंदा करते हैं और कठोर कारवाई की माँग करते हैं I ज़िला मीडिया प्रभारी विनोद गुप्ता ने कहा कि बंगाल में हमारी महिला पोल एजेंट्स के साथ गैंगरेप किया गया और कई माताओं और बहनों के साथ अभद्र व्यवहार किया गया जो बेहद शर्मनाक है I ऐसी घटनाएँ मानवता को शर्मसार करने वाली है I सोशल मीडिया के माध्यम से जो चित्र और विडियो आये हैं उनसे पता चलता है कि कितने निर्दयतापूर्ण तरीक़े से कार्यकर्ताओं को मारा गया है और माताओं बहनों का अपमान किया गया I बंगाल में चुनाव परिणाम के बाद हिंसा की घटनाओं ने हमें दुखी और हैरान किया है। बंगाल की इन घटनाओं से हम सभी कार्यकर्ताओं के मन में बेहद रोष है I महामहिम राष्ट्रपति महोदय जी से इन घटनाओं में लिप्त तृणमूल कांग्रेस पार्टी व उनके नेताओं के ख़िलाफ़ कारवाई की माँग करते हैं I