कोरोना का कोहराम : UP में 7 दिन को बढ़ा “कोरोना कर्फ्यू”; दिल्ली में भी बढ़ा लॉकडाउन, मेट्रो सेवा पर लगाम

21

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच उत्तर प्रदेश और दिल्ली में सात-सात दिनों के लिए जारी पाबंदियों को बढ़ा दिया गया है। हालांकि, बढ़ाए गए कोरोना कर्फ्यू के दौरान जरूरी सेवाओं और सुविधाओं की छूट रहेगी। मसलन दवा की दुकानें खुलती रहेंगी। अस्पताल सामान्य तरीके से काम करेंगे। वहीं, टीकाकरण भी अपनी जगह चलता रहेगा।

रविवार दोपहर एसीएस इन्फॉर्मेशन नवनीत सहगल ने समाचार एजेंसी ANI को इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया, “यूपी में 17 मई तक के लिए आंशिक कोरोना कफ्यू लागू किया जाता है।” इसी बीच, खबर आई कि योगी सरकार ने हेल्थ केयर वर्कर्स को लेकर बड़ा फैसला किया है। दरअसल, प्रदेश में पिछली 30 अप्रैल से कर्फ्यू लागू है। शुरू में इसे तीन मई तक लागू रहना था, लेकिन बाद में इसकी अवधि छह मई तक बढ़ा दी गई थी। बाद में इसे और विस्तार देते हुए 10 मई तक कर दिया गया था, जिसे अब बढ़ाकर 17 मई किया गया है। चूंकि, प्रदेश में फिलहाल कोरोना के एक्टिव मामले ढाई लाख के पार हैं, जबकि कोरोना का पीक भी आईआईटी (कानपुर) मॉडल के हिसाब से 20 मई के आसपास रहेगा। ऐसे में साफ मालूम पड़ता है कि सरकार स्पष्ट संदेश देना चाहती है कि जो जहां है। वहीं रहे। इससे कोरोना संक्रमण भी नहीं फैलेगा और मौजूदा कोरोना के वायरस की चेन भी टूट सकेगी। वहीं, कुछ टीवी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सूबे में कोरोना ड्यूटी पर मरने वालों के परिजन को 50 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा।