कांग्रेसियों ने मनाई  देश के पूर्व प्रधानमंत्री एवं भारतरत्न स्व. राजीव गांधी की 30वीं पुण्यतिथि  

7

फरीदाबाद :  ओल्ड फरीदाबाद राजीव गांघी चौक पर कांग्रेसियों ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री एवं भारतरत्न स्व. राजीव गांधी की 30वीं पुण्यतिथि को प्रेरणा दिवस के रूप में मनाई। इस अवसर पर तिगांव विधानसभा के पूर्व विधायक ललित नागर व फरीदाबाद के पूर्व विधायक आनंद कौशिक के भाई एवं हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव बलजीत कौशिक ने राजीव गांधी की प्रतिमा पर फूल अर्पित किए। इस अवसर पर बलजीत कौशिक ने कोरोना महामारी को देखते हुए लोगो को मास्क वितरित किये। इस अवसर पर ललित नागर ने कहाकि कुछ लोग ज़मीन पर राज करते हैं और कु्छ लोग दिलों पर। मरहूम राजीव गांधी एक ऐसी शख़्सियत थे, जिन्होंने ज़मीन पर ही नहीं, बल्कि दिलों पर भी हुकूमत की। वे भले ही आज इस दुनिया में नहीं हैं, लेकिन हमारे दिलों में आज भी ज़िंदा हैं। राजीव गांधी ने उन्नीसवीं सदी में इक्कीसवीं सदी के भारत का सपना देखा भाव से गंभीर लेकिन आधुनिक सोच और निर्णय लेने की अद्भुत क्षमता वाले राजीव गांधी देश को दुनिया की उच्च तकनीकों से पूर्ण करना चाहते थे। वे बार-बार कहते थे कि भारत की एकता और अखंडता को बनाए रखने के साथ ही उनका अन्य बड़ा मक़सद इक्कीसवीं सदी के भारत का निर्माण है। अपने इसी सपने को साकार करने के लिए उन्होंने देश में कई क्षेत्रों में नई पहल की, जिनमें संचार क्रांति और कम्प्यूटर क्रांति, शिक्षा का प्रसार,18 साल के युवाओं को मताधिकार, पंचायती राज आदि शामिल हैं।

इस अवसर पर बलजीत कौशिक ने राजीव गाँधी को नमन करते हुए कहाकि गाँधी जी 40 साल की उम्र में प्रधानमंत्री बनने वाले राजीव गांधी देश के सबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री थे और दुनिया के उन युवा राजनेताओं में से एक हैं, जिन्होंने सरकार की अगुवाई की है। उनकी मां श्रीमती इंदिरा गांधी 1966 में जब पहली बार प्रधानमंत्री बनी थीं, तब वह उनसे उम्र में 8 साल बड़ी थीं। उनके नाना पंडित जवाहरलाल नेहरू 58 साल के थे, जब उन्होंने आज़ाद भारत के पहले प्रधानमंत्री के तौर शपथ ली।देश में पीढ़ीगत बदलाव के अग्रदूत राजीव गांधी को देश के इतिहास में सबसे बड़ा जनादेश हासिल हुआ था। अपनी मां के क़त्ल के बाद वे कांग्रेस अध्यक्ष और देश के प्रधानमंत्री बने थे। अपनी मां की मौत के सदमे से उबरने के बाद उन्होंने लोकसभा के लिए चुनाव कराने का आदेश दिया। दुखी होने के बावजूद उन्होंने अपनी हर ज़िम्मेदारी को बख़ूबी निभाया था। इस मौके पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता लखन सिंगला,पूर्व पार्षद अनिल शर्मा,एडवोकेट विनोद कौशिक,महिला कांग्रेस की जिला अध्यक्ष सुनीता फागना व सोनू चौधरी,कांग्रेसी नेता राजन ओझा,एनएसयू आई के जिला उपाध्यक्ष विकास फागना, अभिलाष नागर, जयंत कौशिक सहित अनेकों कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद थे।