WTC Final से पहले सबा करीम ने बताई न्यूजीलैंड की बल्लेबाजी की बड़ी कमजोरी, भारत को होगा फायदा

15

न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम इस समय इंग्लैंड के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच खेल रही है। इस टेस्ट सीरीज के बाद कीवी टीम को भारत के खिलाफ आइसीसी वर्ल्ट टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच खेलना है। इस फाइनल मैच से पहले टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज सबा करीम ने न्यूजीलैंड की बल्लेबाजी की एक बड़ी कमजोरी बताई है जिससे भारतीय टीम को फायदा हो सकता है। सबा करीम ने न्यूजीलैंड के खेल को देखकर उसके आधार पर जो थ्योरी सामने रखी है वो काफी दिलचस्प है।

सबा करीम के मुताबिक न्यूजीलैंड की मध्यक्रम की बल्लेबाजी काफी कमजोर दिख रही है और इस टीम की ये कमी भारतीय टीम के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकती है। सबा ने ये बातें तब कही जब न्यूजीलैंड की टीम एक वक्त पर इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट की पहली पारी में तीन विकेट पर 288 रन बना चुकी थी, लेकिन इसके बाद इस टीम ने अपने चार विकेट सिर्फ 6 रन के अंदर गंवा दिए। हालांकि पहली पारी में ये टीम 378 रन बनाने में सफल रही। इसमें नंबर 11 के बल्लेबाज नील वैगनर की बड़ी भूमिका रही जिन्होंने 21 गेंदों पर 25 रन बनाए साथ ही कॉनवे के दोहरे शतक का बड़ा योगदान रहा।

इंडिया न्यूज पर बात करते हुए सबा करीम ने कहा कि, न्यूजीलैंड की बल्लेबाजी काफी हद तक कप्तान केन विलियमसन पर निर्भर है। उन्होंने कहा कि, कीवी टीम का मध्यक्रम ज्यादा मजबूत नहीं दिख रहा क्योंकि सभी टीमों को यही लगता है कि, अगर एक बार केन का विकेट मिल गया तो फिर ये टीम जल्दी आउट हो जाएगी। उन्होंने कहा कि, कोलिन डी ग्रैंडहोम को प्लेइंग इलेवन में शामिल करने के बाद टीम का मध्यक्रम और वीक नजर आ रहा है। उन्होंने कहा कि, मैं न्यूजीलैंड की टीम कांबिनेशन को देखकर हैरान हूं। उन्होंने टीम में तीन पेसर और एक स्पिनर के अलावा ग्रैंडहोम को पांचवें गेंदबाज के तौर पर शामिल किया और इसकी वजह से उनका मध्यक्रम और कमजोर नजर आ रहा है।