होटल में रुका था बिजली निगम का कर्मचारी, शराब पीने के बाद हुई कहासुनी; सिर पर बोतल मारकर दोस्त ने ली जान

26

रोहतक में होटल के कमरे में हत्या की वारदात सामने आई है। आरोप मृतक के दोस्त पर ही है। बताया जाता है कि बिजली निगम का कर्मचारी शनिवार को होटल में रुका था। वहां उसके साथ उसका एक दोस्त भी था। दोनों ने साथ बैठकर शराब पी और फिर किसी बात पर कहासुनी हो गई। इसके बाद दोस्त ने सिर पर बोतल मारकर उसकी जान ले ली। फिर खुद ही होटल के स्टाफ को बता दिया। सूचना के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को मोर्चरी भिजवाया और आगे की जांच शुरू की।

मृतक की पहचान हिसार जिले के सिंघवा खास गांव के सुरेश कुमार के रूप में हुई है। वह सेना से रिटायर होने के बाद बिजली निगम में नौकरी करता था। इन दिनों गुरुग्राम में कार्यरत था। शनिवार देर शाम गुरुग्राम से लौटते वक्त वह रोहतक में शीला बायपास चौक पर स्थित एक होटल में रुक गया। वहां उसके भिवानी जिले के मिताथल का रहने वाला सुनील नामक दोस्त भी था। होटल में कमरा दोनों ने मिलकर बुक किया था। कुछ घंटे बाद सुनील होटल से निकल गया और उसने होटल के संचालक को फोन कर दिया। उसने कहा था, ‘मेरा सुरेश के साथ झगड़ा हो गया है। मैं होटल से निकल गया हूं, कमरे में जाकर सुरेश को देख लो’।

इसके बाद जब होटल का संचालक कमरे में पहुंचा तो वहां सुरेश लहूलुहान हालत में पड़ा था। सिर पर शराब की बोतल मारकर उसकी हत्या कर दी गई थी। इस घटना की सूचना दी तो थाना सिविल लाइन की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए रखवाकर आगे की जांच शुरू कर दी। पुलिस के मुताबिक शुरुआती जांच में सामने आया है कि दोनों के बीच शराब पीते वक्त किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। इसके बाद सुनील ने बोतल से वार करके सुरेश की हत्या कर दी। पुलिस ने उसके परिजनों को सूचना तो रविवार सुबह वो रोहतक पहुंचे। इस बारे में थाना सिविल लाइन के प्रभारी इंस्पेक्टर रमेश कुमार का कहना है कि होटल में शराब पीने के दौरान दो दोस्तों में झगड़ा हुआ था, जिसके चलते एक ने दूसरे की हत्या कर डाली। आरोपी को पकड़ने के लिए दबिश दी जा रही है। हालांकि अभी तक मृतक के परिजनों की तरफ से कोई बयान नहीं दिया गया था।