अंधे कत्ल का पर्दाफाश, होटल कर्मी ने ही की थी हत्या, आरोपी के साथी की तलाश जारी

12

बावल :  पिछले सप्ताह एक ढाबे में मृत मिले कर्मी के अंधे कत्ल की गुत्थी अब पुलिस ने सुलझा ली है। इस मामले में पुलिस ने ढाबे में काम करने वाले ही एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। आपसी विवाद के चलते ढाबा कर्मी के बीच विवाद हो गया था और इसी के चलते उसने अपने एक साथी के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी थी। गिरफ्तार आरोपी की पहचान नवीन उर्फ भोका निवासी रेवाड़ी जिला गांव कनुका के रूप में हुई है। नवीन का साथ देने वाले सत्यवान अभी फरार है।

एक सप्ताह पूर्व गांव कालड़ावास निवासी सत्यवीर पुत्र मातादीन ने शिकायत दी थी कि उसका भाई ओमप्रकाश बम लहरी ढाबे पर काम करता था। 15 जून को ओमप्रकाश का शव संदिग्ध अवस्था में ढाबे में मृत अवस्था में मिला था। पुलिस ने प्रथम दृष्टया ही यह मामला हत्या का नजर आने पर मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी। इसी बीच पुलिस को पता चला कि ढाबे पर काम करने वाला नवीन गायब है।

इसके बाद पुलिस नवीन की गिरफ्तारी के पीछे लग गई और आज उसे धर-दबौचा। पूछताछ में नवीन ने ओमप्रकाश की हत्या करने का स्वीकार कर लिया। उसने पूछताछ में पुलिस को बताया कि ढाबे पर किसी बात को लेकर उनके बीच विवाद हो गया था। इसी के चलते उसने और ढाबे के एक कर्मी सत्यवान उर्फ शक्तिमान ने लोहे की रॉड से ओमप्रकाश पर हमला किया जिसमें उसकी मौत हो गई। इसी के चलते वह ढाबे से भाग गया था। पुलिस फरार चल रहे सत्यवान की तलाश में लगातार छापेमारी कर रही है।