खोरी में 10 हजार मकानों पर तोड़फोड़ को लेकर नगर निगम, पुलिस और वन विभाग तैयार

6

फरीदाबाद : सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर खोरी गांव में हजारों मकानों पर तोड़फोड़ की कार्रवाई को अंजाम देने के लिए नगर निगम  लिस प्रशासन और वन विभाग द्वारा तमाम तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं अब कभी भी इन घरों पर पीला पंजा चलाकर इन्हें ध्वस्त कर दिया जाएगा जिसको लेकर आज सभी विभागों के अधिकारी मौका मुआयना करने खोरी गांव पहुंचे थे । गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा 6 हफ्ते का समय दिया गया था और अब प्रशासन अपनी तमाम तैयारियां पूरी कर चुका है जिसे कभी भी अंजाम दिया जा सकता है ।

 

आज नगर निगम, पुलिस प्रशासन और वन विभाग की टीम एक बार फिर खोरी गांव में पहुंची और हालात का जायजा लिया । तस्वीरों में आप देख सकते हैं किस कदर अधिकारियों की गाड़ियां खोरी गांव में पहुंची हैं ताकि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर तोड़फोड़ की कार्रवाई को अंजाम दिया जा सके । नगर निगम कमिश्नर गरिमा मित्तल ने बताया की सुप्रीम कोर्ट द्वारा 6 हफ्ते का समय दिया गया है और सुप्रीम कोर्ट के आदेश की पालना करने के लिए तीनों विभागों ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है और हर हालत में तोड़फोड़ की कार्रवाई की जाएगी जिसको लेकर आज वन विभाग की टीम थी मौके का मुआयना करने साथ में आई है और जल्दी ही सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की पालना की जाएगी । निगम कमिश्नर से जब उन भू माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने के बारे सवाल किया गया तो उन्होंने गोलमोल जवाब देते हुए कहां की सब चीजों पर कार्रवाई होगी जिसको लेकर तीनों डिपार्टमेंट आपस में तालमेल बनाते हुए काम कर रहे हैं ।

 

पुलिस फोर्स द्वारा खोरी गांव में फ्लैग मार्च भी किया गया था ताकि लोगों को संदेश दिया जा सके और वह अपने घर अपने आप खाली करके चले जाएं । आपको बता दें कि ज्यादातर घर अपना सामान लेकर चले भी गए हैं लेकिन बहुत से लोग अभी भी इस उम्मीद से डटे हुए हैं कि शायद तोड़फोड़ रुक जाए लेकिन प्रशासन ने अब साफ कर दिया है की सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए निर्धारित समय के अंदर हर हाल में तोड़फोड़ होगी । अब देखना होगा की इस तोड़फोड़ के दौरान पुलिस और लोगों के बीच में किस तरह का टकराव होगा या नहीं यह तो आने वाले समय में पता चलेगा ।