लखनऊ पुलिस ने हत्यारोपी धनंजय सिंह के आवास पर चस्पा किया नोटिस, 5 दिन पहले घोषित किया गया था भगौड़ा, पत्नी बनी है जिला पंचायत अध्यक्ष

57

लखनऊ में अजीत सिंह हत्याकांड में फरार चल रहे पूर्व सांसद धनंजय सिंह के जौनपुर के बंसफा स्थित आवास पर रविवार को लखनऊ पुलिस ने नोटिस चस्पा किया। यह कुर्की की कार्रवाई के पहले जारी होने वाला नोटिस होता है। अजीत सिंह हत्याकांड में लखनऊ के विभूति खंड थाने की पुलिस ने धनंजय सिंह को साजिशकर्ता के तौर पर आरोपी बनाया है।

नोटिस चस्पा कर लौटी पुलिस
एएसपी ग्रामीण त्रिभुवन सिंह ने बताया कि नोटिस चस्पा कर लखनऊ पुलिस लौट गई। पुलिस ने आवास पर मौजूद लोगों से धनंजय सिंह के बारे में पूछताछ भी की, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली।

पत्नी हाल ही में बनीं जिला पंचायत अध्यक्ष
जौनपुर में जिला पंचायत सदस्य के वार्ड नंबर-45 से धनंजय सिंह की पत्नी श्रीकला सिंह ने बड़े अंतर से चुनाव जीता है। श्रीकला ने निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष राजबहादुर यादव की पत्नी राजकुमारी देवी को हराया। धनंजय सिंह की पत्नी होने की वजह से चर्चा में रहीं।

घोषित किया जा चुका है भगौड़ा
5 दिन पहले 6 जुलाई को पूर्व सांसद धनंजय सिंह को भगौड़ा घोषित कर दिया गया है। धनंजय सिंह काफी समय से फरार चल रहा है। वह जौनपुर से बसपा के टिकट पर 2009 में लोकसभा चुनाव जीत चुका है। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट आरके गुप्ता ने बहुचर्चित अजीत सिंह हत्याकांड में फरार चल रहे अभियुक्त व पूर्व सांसद धनंजय सिंह के विरुद्ध कुर्की की कार्रवाई से पहले का नोटिस जारी करते हुए भगौड़ा घोषित किया था। अगली सुनवाई 19 जुलाई को होनी है।