योगी सरकार:शराब के लिए अब दिल्ली जाने की जरूरत नहीं, यूपी में मिलेगी दिल्ली से सस्ती, जानिए नया रेट

दिल्ली में शराब उत्तर प्रदेश से काफी सस्ती (Liquor rate in UP vs Dehli) मिलती है है। इस कारण नोएडा-गाजियाबाद और आसपास के जिलों के लोग शराब खरीदने के लिए दिल्ली जाते हैं। लेकिन अब यह स्थिति बदलने वाली है। यूपी में अब शराब दिल्ली से भी सस्ती होने जा रही है।

0 93

हाइलाइट्स

  • उत्तर प्रदेश में अब मिलेगी दिल्ली से भी सस्ती शराब
  • कंपनियों ने 36 प्रीमियम ब्रैंड्स पर एमआरपी कम किया
  • अभी दिल्ली की तुलना में यूपी में शराब महंगी
image source-google

महंगाई के इस दौर में शराब के शौकीनों के लिए अच्छी खबर है। उत्तर प्रदेश में प्रीमियम ब्रैंड्स की शराब (premium brands liquor) सस्ती होने जा रही है। इसके बाद उत्तर प्रदेश के लोगों को सस्ती शराब लेने के लिए दिल्ली जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यूपी में विदेशी ब्रांड की शराब की कीमत दिल्ली से सस्ती होने जा रही है। कीमत में कमी को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार और शराब बनाने वाली कंपनियों के बीच बातचीत के सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। अगले कुछ दिनों में राज्य में सस्ती शराब मिलने लगेगी। शराब बनाने वाली कई कंपनियों ने 36 प्रीमियम ब्रैंड्स पर एमआरपी (MRP) कम कर दिया है। इनमें Glenlivet, Chivas Regal, Jameson, Ballantine’s, Aberlour और Absolut Vodka शामिल है।

हालांकि जॉनी वॉकर (Johnnie Walker) की पैरेंट कंपनी डियाजियो (Diageo) के अल्कोहल ब्रैंड्स की शॉर्टेज अगले कुछ समय तक बनी रहेगी। एक अप्रैल को नया फाइनेंशियल ईयर शुरू होने के साथ ही उत्तर प्रदेश में इंपोर्टेड ब्रैंड्स की शराब की किल्लत शुरू हो गई थी। लेकिन अगले कुछ दिनों में स्थिति सामान्य होने की उम्मीद है। इसके साथ ही लोगों को सस्ती कीमत पर प्रीमियम शराब मिलेगी।

कैसे कम हुई कीमत
विदेशी ब्रैंड्स के प्राइस स्ट्रक्चर की समीक्षा करने के बाद एक्साइज डिपार्टमेंट को लगा कि राज्य में इसकी कीमत दिल्ली के मुकाबले अधिक है। इंपोर्टेड ब्रैंड्स की कीमत लागत, इंश्योरेंस और फ्रेट के आधार पर तय होती है। बेसिक लेंडिंग कॉस्ट के बाद इस पर कस्टम टैरिफ लगता है। इसके बाद राज्य इस पर एक्साइज ड्यूटी लगाता है। एमआरपी फाइनल करने से पहले कंपनियां इसमें अपना प्रॉफिट जोड़ती हैं। विभाग ने पाया कि उत्तर प्रदेश और दिल्ली में एक समान ड्यूटी स्ट्रक्चर के बावजूद दिल्ली की तुलना में यूपी में कीमत अधिक है। इसके बाद शराब बनाने वाली कंपनियों को उत्तर प्रदेश में कीमतें कम करके दिल्ली के बराबर लाने को कहा गया। इस तरह अब यूपी में ब्रांडेड शराब की कीमत दिल्ली के बराबर होगी।

एडिशनल चीफ सेक्रेटरी (एक्साइज) संजय आर भूसरेड्डी ने नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ और एनसीआर के दूसरे जिलों के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि दिल्ली और गुरुग्राम से शराब खरीदकर आने वाले लोगों पर कड़ी नजर रखी जाए। एक्साइज कमिश्नर सेंथिल सी पांडियन ने कहा कि नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ, बागपत और दूसरे पड़ोसी जिलों में शराब की कीमत दिल्ली के बराबर हो जाएगी तो फिर लोग दिल्ली से शराब खरीदना बंद कर देंगे। ग्राहकों पर कार्रवाई करने के बजाय हमने कंपनियों को रेट कम करने के लिए मना लिया। इससे उनकी बिक्री भी बढ़ेगी। बाकी कंपनियां भी हमारे संपर्क में हैं। कुछ हफ्ते में उनका स्टॉक भी आ जाएगा।

इनपुट: एनबीटी

Leave A Reply

Your email address will not be published.