इंडिया गठबंधन की अगर सरकार नही बनी तो अल्पसंख्यकों को झेलनी पड़ेगी तरह-तरह की मुश्किलें : भाई मेहरबान कुरैशी

सत्ता परिवर्तन से ही आऐगी देश में खुशहाली : अनुज आत्रेय

26

नई दिल्ली। फे़स इस्लामिक कल्चरल कम्यूनिटी इंटीग्रेशन (फिक्की) द्वारा मतदाता जागरूकता हेतु एक अहम बैठक का आयोजन वेस्ट लक्ष्मी मार्केट इलाके में किया गया। फिक्की के फाउंडर चेयरमैन डॉ० मुश्ताक अंसारी की देखरेख में आयोजित इस बैठक की अध्यक्षता गाजीपुर मुर्गा मछली मंडी दिल्ली सरकार के चेयरमैन भाई मेहरबान कुरैशी ने की। इसके अलावा दिल्ली प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता अनुज आत्रेय, दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व चेयरमैन जाकिर खान, ऑल इंडिया मोमिन कांफ्रेस के वर्किंग प्रेजीडेंट हाजी मौ० इमरान अंसारी, गाजीपुर मंडी के पूर्व चेयरमैन चौधरी रियासत अली, फिक्की के सलाहकार हाफिज सलीम अहमद, मौ० इलयास सैफी, हाजी रियाजुद्दीन अंसारी, फिक्की की फाइनेंस डायरेक्टर शबाना अज़ीम, शकील अंजुम, मौ० आलम, डॉ० अंजारूल हक, हाजी मुबीन अंसारी, जावेद अनवर, सीनियर जर्नालिस्ट मुस्तकीम खान, जावेद रहमान, मौ० फज़ील, समाज सेवी सलीम मलिक, मौ० जावेद, मौ० आलमगीर, मुमताज अली चिश्ती, शकील अंजुम आदि फिक्की के जिम्मेदार सदस्यों ने इस बैठक में शिरकत की। 

फिक्की की इस बैठक में मतदाता अधिक से संख्या में मतदान करें इस विषय पर खास चर्चा की गई और साथ ही फिक्की ने इंडिया गठबंधन को सपोर्ट करने का ऐलान भी किया। भाई मेहरबान कुरैशी ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि इस लोकसभा चुनाव में अगर इंडिया गठबंधन की सरकार नही बनी तो खास तौर से अल्पसंख्यकों को तरह-तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। यह चुनाव देश में फैल रही नफ़रत के खिलाफ मौहब्बत का चुनाव है। अनुज आत्रेय ने कहा कि चुनाव टक्कर का है, एक-एक वोट कीमती है, वोट डालने में अगर सुस्ती की तो फिर से मुश्किलें झेलनी पड़ेगी और सत्ता परिवर्तन से ही देश में खुशहाली आऐगी।

हाजी इमरान अंसारी ने कहा कि 10 वर्षों में देश में नफ़रत को बढ़ावा मिला है, उसके खात्में के लिए इंडिया गठबंधन की विजय जरूरी है। डॉ० मुश्ताक अंसारी ने कहा कि यह चुनाव संविधान को बचाने का चुनाव है। भाजपा सरकार पिछले दोनों कार्यकाल धार्मिक भेदभाव की राजनीति अपने वोटर्स को खुश करने के लिए करती रही, महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, अपराध व विकास पर कोई कार्य नही हुआ।