CM नीतीश कुमार ने पटना में घूमकर हाल देखा, फिर लिखा- लोग अभी भी मास्क नहीं पहन रहे, चूक से बढ़ेगा कोरोना संक्रमण

21

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गुरुवार को एक बार फिर पटना की सड़कों पर निकले हैं। बीते 46 दिन में यह तीसरी बार है जब नीतीश कुमार ने सड़क पर निकल कर लॉकडाउन के बाद हुए अनलॉक के हालात का जायजा लिया। नीतीश कुमार CM हाउस से निकल कर बेली रोड, राजा बाजार और दानापुर के इलाकों में गए। निरीक्षण के बाद उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से बिहार की जनता को मैसेज भी दिया।

सोशल मीडिया पर नीतीश का मैसेज

बिहार में लॉकडाउन लगाने से पहले दो बार निकले थे नीतीश

CM नीतीश कुमार इसके पहले दो बार पटना शहर का निरीक्षण करने निकले थे। पहली बार उन्होंने 28 अप्रैल और फिर 3 मई को हालात का जायजा लिया था। इसके बाद ही बिहार में लॉकडाउन करने का निर्णय लिया गया था।

28 अप्रैल को निकले तो नाइट कर्फ्यू बढ़ाया

CM नीतीश कुमार ने 28 अप्रैल को अपने सरकारी आवास 1, अणे मार्ग पर अधिकारियों के साथ बैठक की थी, जिसमें उन्होंने स्वास्थ्य विभाग, आपदा विभाग सहित कोरोना से जुड़े संबंधित विभागों से फीडबैक लिया। बैठक के तुरंत बाद वे पटना की सड़कों पर निकल पड़े थे। CM उन जगहों पर गए जहां भीड़भाड़ रहने की संभावना रहती है। इसके अगले दिन मुख्यमंत्री ने बिहार के सभी जिलों के DM-SP के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मीटिंग की। इसके बाद ही पूरे प्रदेश में धारा 144 के तहत पाबंदियां लागू करने और नाइट कर्फ्यू की समय सीमा बढ़ाने का निर्णय लिया गया।

3 मई को निकले तो लॉकडाउन का फैसला लिया

CM नीतीश ने 3 मई को एक बार फिर पटना की सड़कों पर घूम-घूमकर हालात का जायजा लिया। CM आवास से निकले और सीधे रूपसपुर, राजाबाजार होते हुए वापस राजापुल होते हुए गांधी मैदान पहुंचे। इसके बाद शाम को मीटिंग कर बेवजह सड़क पर निकलने वालों पर सख्ती बरतने का निर्देश दिया। कहा कि हमने आज खुद शहर में भीड़भाड़ की स्थिति, कोविड प्रोटोकॉल का पालन, मास्क पहनने का जायजा लिया है। अनावश्यक बाहर निकलने वालों पर नियंत्रण करें। इससे ही संक्रमण की भी रोकथाम होगी। इसके बाद ही 4 मई को बिहार में लॉकडाउन लगाने का फैसला किया गया।