वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स भोजपुरी ने रिलीज किया लोकगायक देवानंद देव का रोपनी गीत “करब रोपनिया”

47

मुंबई : [मामेंद्र कुमार] भोजपुरी के लोक गीतो में रोपनी गीत की काफी महत्ता रही है। वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स ने भोजपुरी लोक गीतों को रिलीज करने और उन्हें प्रोमोट करने की जो जिम्मेदारी ली है, उसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए लोकगायक देवानंद देव का बहुत ही प्यारा रोपनी गीत “करब रोपनिया” रिलीज किया है। रिलीज के कुछ ही घन्टे में गाने को खूब व्यूज मिल रहे हैं। गाने का टीज़र जबसे सोशल मीडिया पर शेयर किया गया, फैन्स इस गाने का इंतजार कर रहे थे। आपको बता दें कि इस गाने का ऑडियो पहले ही रिलीज होकर पॉपुलर हो चुका है, जिसे लाखों लोगों ने सुना है और अब इसका वीडियो आउट किया गया है।

लिंक

वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स प्रस्तुत करब रोपनिया को फोक सिंगर देवानंद देव ने गाया है जो वीडियो में लुंगी पहने हुए खेती करते दिख रहे हैं। इस गाने में देवानंद देव की पत्नी का रोल कर रही खूबसूरत नायिका कहती हैं कि वह नईहर में बहुत लाड प्यार से पाली गई है, उन्होंने कभी कोई काम नही किया है और तुमने भी कहा था कि तुम मुझे रानी बनाकर रखोगे। पानी मे गोड़वा सड़ जाई, नाही करब रोपनिया हो।” गाना काफी दिलचस्प है।

इसका मधुर संगीत सजाया है सागर ब्रदर ने। गाने के बोल लिखा है बृजेश कलेक्टर ने। पंकज सिंह इसके रिकार्डिस्ट हैं। डीओपी रवि गुप्ता और एडिटर अंकित सिंह हैं। आपको बता दें कि भोजपुरी लोक गीतों में रोपनी गीत का एक खास स्थान रहा है। अभी आसाढ़ का महीना चल रहा है जो खेती और किसानी का प्रतीक है। यह महीना धान की रोपाई का महीना होता है. गर्मी से तपती धरती पर जैसे ही बारिश की बूंदे गिरती हैं, ज़मीन जैसे हरी चादर ओढ़ लेती है। ऐसे में महिलाएं भी धान रोपती हैं और रोपनी गीत गाती हैं। वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स ने बहुत अच्छी पहल करते हुए ऐसे लोक गीतों को श्रोताओं व दर्शकों के बीच लाने का काम जारी रखा है, जो भोजपुरी भाषा और संस्कृति की पहचान और धरोहर हैं।