प्रधानमंत्री मोदी आज फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए क्रैश कोर्स की शुरुआत करेंगे : 26 राज्यों में 111 ट्रेनिंग सेंटर्स बनाए गए

9

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए तैयार किए गए क्रैश कोर्स प्रोग्राम की शुरुआत करेंगे। यह क्रैश कोर्स देश के 26 राज्यों में शुरू किया जा रहा है। इसके लिए करीब 111 ट्रेनिंग सेंटर बनाए गए हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी लोगों के बीच अपनी बात भी रखेंगे। इस मौके पर केंद्रीय कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री भी मौजूद रहेंगे।

कोरोना वॉरियर्स को सशक्त करना मकसद
इस प्रोग्राम का मकसद देशभर में एक लाख से अधिक कोरोना वॉरियर्स को कौशल से लैस करना और उन्हें कुछ नया सिखाना है। कोरोना वॉरियर्स को होम केयर सपोर्ट, बेसिक केयर सपोर्ट, एडवांस्ड केयर सपोर्ट, इमरजेंसी केयर सपोर्ट, सैंपल कलेक्शन सपोर्ट और मेडिकल इक्विपमेंट सपोर्ट जैसे 6 टास्क से जुड़े रोल के बारे में ट्रेनिंग दी जाएगी।

276 करोड़ रुपए आया खर्च
इस प्रोग्राम के लिए 276 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। यह प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना 3.0 के तहत आने वाले प्रोग्राम है। जिसे खासतौर पर फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए तैयार किया गया है। यह प्रोग्राम स्वास्थ्य के क्षेत्र में श्रमशक्ति की मौजूदा और भविष्य की जरूरतों को पूरा करने के लिए कुशल गैर-चिकित्सा स्वास्थ्यकर्मियों को तैयार करेगा।